आईआईटी से नौबस्ता तक मेट्रो के 22 स्टेशन

आईआईटी से नौबस्ता तक मेट्रो के 22 स्टेशन

कानपुर : शहर में मेट्रो ट्रेन परियोजना के लिए शनिवार को राइट्स कंपनी और लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन (एलएमआरसी) की टीम ने 22 किलोमीटर के एक रूट का सर्वे कर 22 स्टेशन चिह्नित किए।
शहर में मेट्रो ट्रेन का संचालन 35 किलोमीटर के दायरे में किया जाना है। इसके लिए दो रूट बनाए जाने हैं। पहला रूट आईआईटी से फूलबाग, झकरकटी होते हुए नौबस्ता तक जाना है। 22 किमी लंबे इस रूट पर 22 स्टेशन और तीन यार्ड बनने हैं। यह काम अगले वर्ष जनवरी माह में शुरू करने की योजना है। शनिवार को एलएमआरसी के एमडी कुमार केशव के नेतृत्व में दस्ते ने स्टेशन तय किए। राइट्स कंपनी के महाप्रबंधक पीयूष कंसल, टीम में केडीए के नगर नियोजक आशीष शिवपुरी, समग्र विकास समिति के समन्वयक नीरज श्रीवास्तव उपस्थित रहे।
यहां बनेंगे स्टेशन
प्रथम रूट पर आईआईटी गेट के सामने, कल्याणपुर स्टेशन के सामने, आवास विकास कार्यालय के सामने, छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय गेट के पास, पालीटेक्निक चौराहा, गीता नगर क्रासिंग, रावतपुर स्थित रोडवेज बस स्टेशन के पास, मोतीझील केडीए गेट, हर्ष नगर , चुन्नीगंज बस स्टेशन के सामने, परेड, बड़ा चौराहा, फूलबाग, कैनाल रोड, घंटाघर, झकरकटी, ट्रांसपोर्ट नगर, बारादेवी, किदवई नगर, पशुपति नगर, बसंत बिहार, नौबस्ता के पास स्टेशन बनेंगे।
इस तरह होगा रूट
एलीवेटेड रूट:आईआईटी से मोतीझील गेट तक तथा ट्रांसपोर्ट नगर से नौबस्ता तक।
अंडरग्राउंड रूट : हर्ष नगर से ट्रांसपोर्ट नगर तक।
लागत आएगी
0 एलीवेटेड रूट पर प्रति किमी 250 करोड़ रुपये।
0 अंडरग्राउंड रूट पर 500 करोड़ रुपये प्रति किमी लागत।
यहां बनेगा रैंप
मोतीझील गेट का स्टेशन खत्म होते ही ट्रेन को अंडरग्राउंड रूट पर चलना है, ऐसे में बृजेंद्र स्वरूप पार्क के पास से ही रैंप बनेगा। दूसरा रैंप पशुपति नगर के पास बनेगा।
यहां बनेंगे कॉरीडोर डिपो
पालीटेक्निक कालेज के पास, चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के खेत में और नौबस्ता स्थित आवास विकास की भूमि पर कॉरीडोर डिपो बनेंगे। यहीं पर मेट्रो ट्रेनों की मरम्मत और धुलाई का काम होगा।
स्टेशन का स्वरूप
एलीवेटेड स्टेशन: 24 X140 मीटर क्षेत्रफल में।
अंडरग्राउंड स्टेशन: 40 X 200 मीटर क्षेत्रफल में।
परियोजना का हाल
काम- मेट्रो ट्रेन का संचालन
नोडल एजेंसी- केडीए
डीपीआर बनाएगी- राइट्स लिमिटेड कंपनी।
लागत: 3.50 करोड़ से बनेगा
डीपीआर
निगरानी: समग्र विकास समिति
पहले रूट की लंबाई: – एलीवेटेड रूट 14 किमी
– अंडरग्राउंड रूट करीब आठ किमी लंबा होगा।
ट्रेन कोच: छह।
पार्किंग की व्यवस्था की जाएगी
समग्र विकास समिति के समन्वयक ने राइटस कंपनी के अफसरों को स्टेशनों के पास पार्किंग बनाने का सुझाव दिया। उनके सुझाव पर सहमति बनी और तय किया गया कि जहां आबादी अधिक है वहां पार्किंग की व्यवस्था की जाए। ऐसे में आवास विकास कल्याणपुर कार्यालय के पास, रावतपुर बस स्टेशन के पास पार्किंग पर सहमति बनी। कई अन्य जगहों पर भी केडीए पार्किंग स्थल चिह्नित करेगा।
जल्द इस रूट पर तय होगा स्टेशन
रतनलाल नगर से बर्रा, विजय नगर चौराहा, गीता नगर क्रासिंग तक एक और रूट बनना है, इसके लिए जल्द ही स्टेशन तय किया जाएगा।
” शहर के लोगों को यातायात जाम से राहत दिलाने को मुख्यमंत्री ने मेट्रो परियोजना को हरी झंडी दी है। डीपीआर बनने के साथ ही धन आवंटन व अन्य काम शुरू कराए जाएंगे।-मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन, मंडलायुक्त

Advertisements

One response to “आईआईटी से नौबस्ता तक मेट्रो के 22 स्टेशन

  1. Pingback: आईआईटी से नौबस्ता तक मेट्रो के 22 स्टेशन « Kanpur News·

Comments are closed.