76 मिनट में भूकंप के छह झटके, 60 की मौत

मंगलवार को दोपहर 12.35 पर एक बार फिर से भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप के ये झटके पूरे उत्तर भारत में महसूस किए गए। लखनऊ सहित दिल्ली, राजस्‍थान, बिहार और कोलकाता में भी महसूस किए गए।

TRM

भू वैज्ञानिकों अनुसार इस भूकंप का केंद्र इस बार भी नेपाल रहा। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.1 आंकी गई। भूकंप के तेज झटकों से लोग दहशत में आ गए।

लोग दफ्तरों और घरों से बाहर निकलकर आ गए। गौरतलब है कि इससे पहले 25 अप्रैल को बड़ा भूकंप आया था। इस भूंकप ने नेपाल में तबाही मचा दी थी।

नेपाल के लोग अभी तक इस भूकंप से हुई तबाही से उभर नहीं पाए हैं। पिछले भूकंप में हजारों लोगों की जानें गई थी। 25 अप्रैल के बाद कई बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं।

दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत, नेपाल और चीन में मंगलवार को भूकंप के छह झटके महसूस किए गए। मंगलवार को आए भूकंप में नेपाल में 36 और भारत में 18 लोगों के मारे जाने की खबर है। नेपाल में करीब एक हजार लोगों के घायल होने की खबर है। भूकंप का पहला झटका दोपहर 12:35 बजे आया। इसकी रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 7.4 बताई गई है। इसके बाद 12 बजकर 47, एक बजकर 11 मिनट, 1:35 बजे ,1:42 बजे और छठा झटका 1:51 बजे महसूस किया गया। इसका प्रभाव दिल्ली के अलावा उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश में भी महसूस किया गया। उत्तर प्रदेश के संभल और हमीरपुर में घर गिरने से दो व्यक्ति की मौत की खबर है। वहीं, बिहार में 16 की मौत हुई है। जानकारी के मताबिक, नेपाल के काठमांडू से 82 किलोमीटर दूर कोडारी के करीब चीन की सीमा के पास झाम भूकंप का केंद्र था। जमीन के 19 किमी अंदर इस भूकंप का केंद्र था। इसके अलावा, पाकिस्तान और बांग्लादेश में भी आए भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं।

 

Advertisements

One response to “76 मिनट में भूकंप के छह झटके, 60 की मौत

  1. मंगलवार को रोज की तरह शहर अपनी पूरे रौ और रफ्तार में था। स्कूल, कालेज, मॉल्स, टाकीज, सरकारी व गैर सरकारी प्रतिष्ठानों का माहौल भी हर दिन की तरह था। घड़ी में जैसे ही 12:38 बजे, भूकंप के पहले झटके ने शहर को हिलाकर रख दिया। इसके बाद शहर की रफ्तार में जो तेजी आयी उसने एक बारगी सबको डरा दिया। स्वरूप नगर, सर्वोदय नगर, तिलक नगर, सिविल लाइंस, मालरोड, गोविंद नगर, किदवई नगर, रतनलाल नगर, लाजपत नगर, बिरहाना रोड, कल्याणपुर, काकादेव, डबल पुलिया समेत शहर के सभी अपार्टमेंट में रहने वाले लोग बुजुर्गो व बच्चों के साथ नीचे की ओर भागे। जिन्हें झटके महसूस नहीं हुए उन्हें लोगों ने आवाज देकर बाहर निकाला। सड़कों पर निकलते लोगों को देखकर राहगीर भी वाहन रोककर खड़े हो गये और उत्सुकता में मोबाइल निकालकर आसपास के भवनों को कैमरे में कैद करना शुरू कर दिया। मकानों में रहने वाले लोग भी रोड पर निकल आए। सुरक्षा के चलते लोग आसपास के मैदानों व पार्को में भी पहुंचे। सरकारी व गैर सरकारी कार्यालयों में जैसे ही कर्मचारियों को झटकों का एहसास हुआ तो हड़कंप मच गया, जो जहां था उसी स्थिति में बाहर की ओर भागा। महिलाओं और बुजुर्ग कर्मचारियों को साथियों ने बाहर निकलने में सहारा दिया। सड़कों पर अफसर और कर्मचारी एक साथ खड़े होकर अपने कार्यालयों को काफी देर तक ताकते रहे। कचहरी परिसर में भूकंप के झटकों को लेकर शोर मचा तो कुछ ही देर में छह मंजिला इमारत खाली हो गई। वकील, वादकारी, बंदी और सिपाही सभी खुले स्थान की ओर भागे। डर का आलम ऐसा था कि कुछ वादकारी जीने से नीचे उतरने के दौरान कूद गये तो वकीलों ने मना किया। जिला जज अरूण कुमार गुप्ता के साथ सभी न्यायिक अधिकारी पीएसी कैंप में पहुंच गये तो कर्मचारी भी काम छोड़कर बाहर निकल आये। स्टॉक एक्सचेंज, पदम टावर में काम करने वाले कर्मचारी भूकंप के झटके के बाद नीचे उतरे तो दोपहर एक बजे तक परिसर में नहीं गये। दोबारा भूकंप के झटकों की आशंका के चलते कर्मचारी डरे हुए थे। यही हाल सोमदत्त प्लाजा, जेड स्क्वायर, सिटी सेंटर समेत अन्य कार्यालयों का भी था। लोग दुकानें खुली छोड़कर सड़क पर निकल आये तो खरीदार भी नीचे की ओर भागे। स्थिति यह थी कि लोगों के सड़कों पर आने से वाहन फंसे तो जाम भी लगा। बैंकों के कर्मचारी भी बैंक छोड़कर भागे और बाहर से सुरक्षा अंजाम देते रहे। बता दें कि शहर में भूकंप के सात झटके दर्ज किये गये लेकिन दो बड़े झटके ही शहरवासियों ने महसूस किये, रूककर दूसरे झटकों की संभावना पर चर्चा की और फिर अपनी राह चल दिये।

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s