कानपुर की प्रगति ने यूपी मेरिट लिस्ट में हासिल किया चौथा स्थान, जश्न में डूबा परिवार

कानपुर. यूपी बोर्ड के 12वीं और 10वीं के रिजल्ट में एक बार फिर लड़कियों ने बाजी मारी है।12वीं के नतीजों में प्रगति सिंह ने तो 10वीं की परीक्षा में सोनाली शर्मा ने कानपुर का नाम रोशन किया है। रघुनाथ प्रताप मिश्र इंटर कॉलेज की पढ़ने वाली प्रगति सिंह ने यूपी मेरिट लिस्ट में चौथा स्थान हासिल किया है। वहीं, सरदार पटेल स्कूल की हाईस्कूल की छात्रा सोनाली सचान ने 93.6 फीसदी अंक हासिल करके शहर का मान बढ़ाया। इतना ही नहीं, शिवाजी इंटर कॉलेज की लड़कियों ने भी अच्छे अंक हासिल किए। इस कॉलेज की श्वेता वर्मा ने 94.4 फीसदी अंक हासिल करके कॉलेज में टॉप किया।

माध्यमिक शिक्षा परिषद यूपी बोर्ड के दसवीं और बारहवीं कक्षा का परिणाम रविवार को घोषित कर दिया गया। इंटर के परिणामों में शहर की तीन छात्राओं व एक छात्र ने प्रदेश की टॉप फाइव में स्थान बनाया। इतिहास में पहली बार एक ही दिन आए दोनों परीक्षा परिणामों ने छात्र छात्राओं में खुशी और उत्साह का संचार कर दिया।

रविवार दोपहर साढ़े 12 बजे घोषित हुए परीक्षा परिणामों में शहर का इंटरमीडियट का रिजल्ट 93.45 प्रतिशत रहा। जिससे शहर ने प्रदेश में अपना 19 वां स्थान बनाया। इंटरमीडियट की परीक्षा में बैठने के लिए कुल 57694 छात्र छात्राओं ने पंजीकरण करवाया था। इनमें से 55508 छात्र छात्राएं परीक्षा में शामिल हुए। इनमें से 51875 छात्र छात्राएं सफल रहे।

वहीं हाईस्कूल में शहर पूरे प्रदेश में 25 वें स्थान पर रहा। इसमें उत्तीर्ण होने वाले छात्र छात्राओं का प्रतिशत 85.42 रहा। हाईस्कूल की परीक्षा में 64094 परीक्षार्थियों ने अपना पंजीकरण करवाया था। उनमें से 58890 छात्र छात्राएं परीक्षा में शामिल हुए। जिनमें से 50306 छात्र छात्राओं को सफलता मिली है। दोनों ही कक्षाओं के परीक्षा परिणाम आने के बाद छात्र छात्राएं खुशी से झूम उठे। कई स्कूल कालेजों में ढोल नगाड़े बजाकर और अपनी खुशी का इजहार किया।

जिले में टॉप करने वाली प्रगति ने बताया कि उसे 98 फीसदी नंबर आने की उम्मीद थी। कंप्यूटर में 99 नंबर आए हैं, वहीं बाकी विषयों में 96 नंबर मिले हैं। आगे चलकर प्रगति आईआईटी की तैयारी करना चाहती है। उसका सपना कानपुर आईआईटी से कम्प्यूटर साइंस में बीटेक करना है। उसने बताया कि वह रोज घर में आठ घंटे पढ़ाई करती थी। वहीं, प्रगति के पापा अजय कुमार अपनी बेटी की सफलता से बेहद खुश हैं।

शिवाजी कॉलेज की टॉपर श्वेता वर्मा को माला पहनाती टीचर।

शिवाजी कॉलेज की टॉपर श्वेता वर्मा को माला पहनाती टीचर।

पायलट बनना चाहती हैं श्वेता
वहीं, शिवाजी कॉलेज की टॉपर श्वेता वर्मा के मुताबिक, वह पायलट बनकर माता-पिता का नाम रोशन करना चाहती है। उसने अच्छे नंबर आने का श्रेय अपने कॉलेज और टीचरों को दिया है। श्वेता ने बताया कि यदि छात्र एग्जाम में अच्छे नंबर लाना चाहते हैं तो उन्हें लिखकर याद करने की आदत डालनी चाहिए। हर सब्जेक्ट को बराबर तवज्जो देनी चाहिए, तभी अच्छे नंबर हासिल किए जा सकते हैं। परीक्षा के समय खुद पर ज्यादा दबाव डालना गलत है। सुबह जल्दी उठकर पढ़ाई करना सबसे अच्छा रहता है।

Advertisements