खटखटाने पर सावधानी से खोलि‍ए दरवाजा, झपटमार दे रहे वारदात को अंजाम

कानपुर. कोई दरवाजा खटखटाए तो सावधानी से ही खोलें, क्‍योंकि‍ अब लुटेरों ने वारदात का नया तरीका अपना लि‍या है। ताजा मामला कानपुर के कि‍दवई नगर का है। शुक्रवार की दोपहर एक लुटेरा पता पूछने के बहाने दरवाजा खुलवाया, जब तक महि‍ला कुछ समझ पाती, वह चेन झपटकर भागने लगा। हालांकि‍, महि‍ला ने हि‍म्‍मत दि‍खाते हुए उसे धर दबोचा, लेकि‍न हाथापाई के दौरान चेन छोड़कर भागने में कामयाब रहा।

किदवई नगर थाना क्षेत्र के एच ब्लॉक संजय वन चौकी से चंद कदमों की दूरी पर सुरेश नारायण पांडेय का मकान है। दोपहर के वक्त घर में सुरेश पांडेय, बेटी पूनम बाजपाई और उनकी पत्नी थी। पूनम 21 मई को अपने ससुराल इंदौर से मायके किदवई नगर आई थी। इनके पति मुकेश का इंदौर में ऑटो पार्ट्स का बिजनेस है।

पूछने पर बताया, भइया से मि‍लना है
पूनम ने मुताबि‍क, दोपहर को एक लुटेरा आया और उसने मेन गेट का दरवाजा खटखटाया। जब दरवाजा खोलने पहुंची तो पूछने पर बताया कि‍ भइया से मि‍लना है। अभी कुछ पूछ ही रही थी कि‍ लुटेरा झपट्टा मारते हुए उनकी चेन तोड़कर भागने लगा। हालांकि‍, उसने हि‍म्‍मत दि‍खाते हुए लुटेरे को पकड़ लि‍या और हाथापाई शुरू हो गई। इस दौरान लुटेरा चेन छोड़कर कि‍सी तरह उनकी गि‍रफ्त से भाग नि‍कला। पूनम ने बताया कि चेन आर्टिफिशि‍यल थी।

लुटेरों में नहीं है पुलि‍स का खौफ
महिला के पिता सुरेश नारायण पांडेय के मुताबिक, घर के से 50 मीटर की दूरी पर संजय वन चौकी है। दिन में कई बार यहां पर पुलिस वाहन चेकिंग करती है, लेकि‍न दि‍नदहाड़े बदमाश लूट की वारदात को अंजाम दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि यहां पुलिस चेकिंग के नाम पर र्सि‍फ वसूली करती है। लूटेरों में पुलिस का जरा भी भय नहीं है, क्‍योंकि‍ लूटेरों को पता है कि पुलिस उन्‍हें पकड़ नहीं पाएगी।

Advertisements