तुलसी हॉस्पिटल :धुएं के गुबार में मदद की गुहार

99992724067कानपुर: सिविल लाइंस स्थित तुलसी हॉस्पिटल में शार्ट सर्किट की वजह से शुक्रवार देर रात 1:30 बजे लगी आग से अफरा-तफरी मच गई। अस्पताल स्टॉफ ने सो रहे तीमारदारों को तुरंत बाहर कर दिया। मरीजों को अस्पताल से निकालने के लिए कई तीमारदार हंगामा करने लगे। वहीं, धुएं के गुबार के बीच कई महिलाएं अपने मरीजों को बचाने के लिए मदद की गुहार लगाती रहीं। मौके पर पहुंची दमकल आग बचाने में जुट गईं। कई मरीजों को अस्पताल से निकाल लिया गया। वहीं कई मरीज भीतर फंसे रहे। हॉस्पिटल के स्टोर रूम में शार्ट सर्किट से देर रात आग लग गई। अस्पताल प्रशासन ने आनन-फानन में तीमारदारों को बाहर निकाल दिया। अस्पताल के भीतर मरीज फंसे होने से परेशान कई तीमारदारों ने हंगामा शुरू कर दिया। कई तीमारदार जबरन अस्पताल के भीतर घुस गए। आईसीयू का दरवाजा तोड़कर सात मरीजों को जैसे-तैसे अस्पताल से बाहर निकाला। वहीं, कई वार्डो से मरीजों को निकालने का सिलसिला जारी रहा। कर्नलगंज दमकल की तीन गाड़ियां मौके पर आग बुझाने में जुटी हुई थी। उधर, अस्पताल के संचालक तिलकनगर निवासी अमरशंकर गुप्ता को अस्पताल में आग लगने की जानकारी दी गई। आईसीयू के शीशे तोड़ मरीज निकालेजिस वक्त अस्पताल में आग लगी। उस वक्त अस्पताल में करीब 50 से अधिक मरीज भर्ती थे। आईसीयू में सात मरीज भर्ती थे। इन्हें बचाने के लिए तीमारदार हॉस्पिटल के स्टॉफ से भिड़ गए और खुद ही आईसीयू के शीशे तोड़कर अपने मरीजों को बाहर निकाल ले गए। कई मरीज लीलामणि में शिफ्ट किए गए अस्पताल में कई मरीज गंभीर रूप से बीमार थे। तुलसी अस्पताल में आग लगते ही तीमारदार आनन-फानन में बाहर निकालकर सामने स्थित लीलामणि अस्पताल ले गए और वहां भर्ती करा दिया। कैंट निवासी शमीम, फरुखाबाद की सीमा, बेकनगंज कल्लू समेत करीब एक दर्जन से अधिक लोगों को लीलामणि में शिफ्ट किया गया। अस्पताल में भगदड़, कई चुटहिलअस्पताल में आग लगने से भगदड़ मच गई। तीमारदार इधर-उधर भागने लगे। आपाधापी के दौरान कई लोग गिरकर चुटहिल भी हो गए। वहीं, आईसीयू के शीशे तोड़ने से कई लोग घायल हो गए।अग्निशमन यंत्र एक्सपायरी निकलेचार मंजिला अस्पताल में वैसे तो कई अग्निशमन यंत्र थे। लेकिन ये सभी एक्सपायरी थे। अस्पताल स्टॉफ ने इन्हें आग बुझाने के लिए जैसे ही इस्तेमाल करने की कोशिश की तो ये दगा दे गए। वहीं, लीलामणि अस्पताल के स्टॉफ ने अग्निशमन यंत्र से आग बुझाने का प्रयास किया लेकिन सफलता नहीं मिली। गोद तो कोई स्ट्रेचर से ले भागा मरीजआग लगने से पूरे अस्पताल में हड़कंप मच गया। तीमारदार किसी मरीज को गोद पर तो कोई स्ट्रेचर पर लेकर बाहर भागने लगे। इस दौरान एक व्हील चेयर होने से तीमारदारों को दिक्कत हुई।भइया बाल-बाल बच गएहादसे में जो लोग बच गए उन्होंने बाहर आकर भगवान का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा कि ऊपर वाले का शुक्र है जो आज जान बच गई।

तुलसी हॉस्पिटल में शुक्रवार देर रात लगी आग से धुएं का ऐसा गुबार उठा कि अफरातफरी मच गई। आईसीयू से मरीजों को किसी तरह बाहर निकाल लीलामणि में भर्ती कराया गया।

Click here to enlarge imageClick here to enlarge imageClick here to enlarge imageClick here to enlarge image

Advertisements