बटन से खुलेंगे रेलवे फाटक, जाम से मिलेगी निजात

पूवरेत्तर रेलवे और उत्तर मध्य रेलवे की परिधि में इलाहाबाद, लखनऊ, फरुखाबाद, झांसी और बांदा रूटों पर आने वाली रेल क्रॉसिंगों पर लगने वाले जाम से निजात दिलाने की रणनीति पर रेलवे ने काम शुरू कर दिया है। इस कड़ी में दोनों जोनों ने इलाहाबाद और इज्जतनगर मंडल में आने वाली 48 रेल क्रॉसिंगों पर इलेक्ट्रॉनिक गेट ओपन सिस्टम लगाने की हरी झंडी दे दी है। नए आधुनिक सिस्टम लगने के बाद इन क्रॉसिंगों पर फाटक अधिकतम पांच मिनट तक बंद रहेंगे जबकि मैनुअल सिस्टम होने पर 8 से 10 मिनट तक बंद रहते थे। शहर के बीच से गुजरने वाली फरुखाबाद रेललाइन के समानांतर ही जीटी रोड है। शहर सीमा में 12 रेल क्रॉसिंगों में से 10 पर मैनुअल सिस्टम है। इन पर लगने वाले जाम को लेकर रेलवे और जिला प्रशासन के बीच रणनीति बनी तो समस्या का समाधान निकालने की कड़ी में इन क्रॉसिंगों पर आधुनिक सिस्टम लगाने पर सहमति बनी। छह क्रॉसिंगों पर फ्लाईओवर अपरगामी के पचड़े में फंसे साल 2016-2017 में पेश हुए रेल बजट में अनवरगंज से कल्याणपुर के बीच छह रेल क्रॉसिंगों पर फ्लाईओवर बनाने का ऐलान हुआ था। इसके बाद रेलवे की इंजीनियरिंग टीम ने सव्रे भी किया। जिस पर गुमटी, नजीराबाद और कल्याणपुर क्रॉसिंगों के कारोबारियों ने फ्लाईओवर का विरोध किया। इसके बाद इन क्रॉसिंगों पर अपरगामी फ्लाईओवर बनाने पर सव्रे शुरू कराया गया लेकिन कोई बदलाव नहीं हो सका।

शहर की ज्यादातर क्रॉसिंगों पर गेट खुलते ही बन जाती है जाम सी स्थिति।

d131494074

Advertisements