हैलट में इलाज के लिए आने वाले तीमारदार अब आश्रय गृह में ठहर सकेंगे

32195de6-4fa2-4941-aa8b-4d422f81a1b1– हैलट में इलाज के लिए आने वाले तीमारदार अब आश्रय गृह में ठहर सकेंगे

– महिलाओं व पुरुषों के लिए अलग अलग डॉरमेट्री व रूम की सुविधा

dormetryKANPUR: हैलट में अपने मरीजों का इलाज कराने आए तीमारदारों को अब गली में या बेड के किनारे फर्श पर नहीं सोना पड़ेगा। हैलट के वार्डो के पास बने तिमंजिला आश्रय गृह में अब उन्हें बेहद सस्ती दरों पर रूम और डॉरमेट्री की सुविधा मिल सकेगी। इसके अलावा साफ सुधरे बाथरूम व सिक्यूरिटी भी होगी। हैलट के नेत्ररोग विभाग ओटी के पास आश्रय गृह का निर्माण पूरा हो चुका है। इसमें महिलाओं व पुरुषों के ठहरने के लिए अलग अलग डॉरमेट्री बनाई गई है। जिसमें आराम करने के लिए बेड और सामान रखने के लिए एक लॉकर की भी सुविधा है।

सी एंड डीएस ने किया निर्माण

हैलट में बनाए गए आश्रय गृह का निर्माण राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत सी एंड डीएस व उत्तर प्रदेश जल निगम ने किया है। इसमें 8 रूम और महिलाओं व पुरुषों के लिए अलग अलग डॉरमेट्री का निर्माण किया गया है। इनके चार्जेस अभी तय नहीं हैं। हैलट के प्रशासनिक अधिकारियों के मुताबिक अस्पताल में बेहद गरीब लोग इलाज के लिए आते हैं इसे ध्यान में रखते हुए रूम और डॉरमेट्री के चार्जेस कम ही रखे जाएंगे.

वर्जन-

इसके बन जाने से इलाज के लिए कई दिन तक रुकने वाले तीमारदारों को काफी फायदा होगा। इसके संचालन के लिए जरूरी स्टॉफ की व्यवस्था की जा रही है। निर्माण पूरा हो चुका है। जल्द ही आम लोगों के लिए शुरू कर दिया जाएगा।

– डॉ। आरसी गुप्ता, एसआईसी, एलएलआर हॉस्पिटल

Advertisements