कानपुर : विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में कानपुर जिले में24 से नामांकन, 19 फरवरी को मतदान

d7203कानपुर : विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में कानपुर जिले में मतदान होगा। 24 से 31 जनवरी तक प्रत्याशी नामांकन कर सकेंगे। 19 फरवरी को मतदान होगा। 11 मार्च को नौबस्ता स्थित गल्ला मंडी में मतों की गणना की जाएगी। मतगणना के बाद परिणाम घोषित किया जाएगा।1निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव आचार संहिता जारी किए जाने के साथ ही प्रशासन सक्रिय हो गया है। चुनावी तैयारियों को तेजी से अंतिम रूप दिया जा रहा है। पूर्व के चुनावों में कलेक्ट्रेट के पुराने भवन में नामांकन की प्रक्रिया होती थी पर इस बार एसीएम कार्यालय और तहसील भवन में नामांकन होगा। बिल्हौर और बिठूर विधानसभा सीट के नामांकन तहसील कार्यालय और शेष क्षेत्रों के नामांकन एसीएम और सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय में कराए जाएंगे।

13 से 31 जनवरी तक बन सकेंगे मतदाता

कानपुर: अगर आपकी उम्र एक जनवरी 2017 को 18 वर्ष हो गई है तो मतदाता बनने को तैयार हो जाएं। अगर चूक गए तो वोट देने से वंचित रह जाएंगे। निर्वाचन आयोग 13 जनवरी से 31 जनवरी तक मतदाता बनने का अवसर देगा। ऐसे लोग जिनका नाम सूची में नहीं है और चुनाव लड़ना चाहते हैं तो वे मतदाता बन चुनाव लड़ सकें। 1मतदाता सेवा केंद्रों पर करें आवेदन113 जनवरी से आप किसी भी मतदाता सेवा केंद्र पर जाकर मतदाता सूची में नाम बढ़वा सकेंगे। इसके लिए आपको फार्म छह भरना होगा। मतदाता सेवा केंद्र सभी तहसील मुख्यालयों और एसीएम कार्यालय में बने हुए हैं। 1मतदाता बनने के लिए पासपोर्ट, बैंक पासबुक, आधार कार्ड, राशन कार्ड की फोटो कापी, उम्र के प्रमाण पत्र के रूप में कक्षा दस का अंक पत्र या फिर जन्म प्रमाण पत्र फार्म छह के साथ संलग्न करना होगा।कानपुर : चुनाव की अधिसूचना जारी होते ही आयकर विभाग ने भी पुख्ता तैयारी शुरू कर दी है। हालांकि नोटबंदी के बाद बैंक खातों में जमा हो रही रकम की पड़ताल भी विभाग को ही करनी है, किंतु अब चुनाव आने पर खातों की जांच का काम पिछड़ जाएगा। 1नोटबंदी के बाद खातों में जमा होने वाली लंबी रकम की सूचना के आधार पर छापेमारी और बैंक खातों की जांच पड़ताल में जुटा आयकर निदेशक (जांच) कार्यालय के पास अब नई जिम्मेदारी आ गई है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने माना कि चुनाव अधिसूचना जारी होने के साथ विभाग की जिम्मेदारी बढ़ गई है। अब इस जिम्मेदारी को निभाने के लिए विभाग की मशीनरी को मुस्तैद किया जाएगा। वैसे भी तैयारियों के लिए 72 घंटे का समय मिलता है और इस अवधि में अधिकारियों की जिम्मेदारी तय कर दी जाएगी।

d3909
d7563
d5750

d5773

d6998

Advertisements