गोविंदपुरी-पुल के सभी गर्डर रखे

कानपुर प्रमुख संवाददाता

99992901341लंबी जद्दोजहद और भारी दबाव के बीच रेलवे ने सोमवार को गो¨वदपुरी पुल के आखिरी पांच गर्डर रख दिए। दोपहर 12:30 बजे से 2 बजे के बीच कुल 90 मिनट में क्रेन की मदद से सभी पांचों गर्डर चढ़ा दिए गए। रेलवे इंजीनियरों का कहना है कि 31 मार्च तक बाकी बचा काम पूरा कर सेतु निगम को हैंडओवर कर देंगे।राज्य सेतु निगम के इंजीनियर गो¨वदपुरी पुल के निर्माण में हो रही देरी की वजह रेलवे का बचा काम बता रहे थे। डीएम ने कई बार निर्माणाधीन पुल का निरीक्षण कर बचा काम पूरा करने के निर्देश दिए थे। उधर, रेलवे इंजीनियरिंग विभाग कंट्रोल से ब्लॉक नहीं मिलने के कारण पुल के गर्डर नहीं रख पा रहा था। तीन दिन पहले रेलवे कंट्रोल ने ब्लॉक दिया लेकिन नगर निगम की खुदाई आड़े आ गई। नगर निगम ने बीच गड्डा खोद दिया था। इसके चलते रेलवे की क्रेन नहीं लग पा रही थी। रविवार को रेलवे इंजीनियरों ने कंक्रीट से गड्ढा बंद कराया और सोमवार को दोपहर में साउथ लाइन पर ट्रेनों की आवाजाही रोकने के लिए 90 मिनट का ब्लॉक लिया। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक नार्थ लाइन से दिल्ली से आने वाली ट्रेनों की आवाजाही पर कोई असर नहीं पड़ा। झांसी रूट की दो मालगाड़ियों को रोकना पड़ा। एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनों का संचालन वाधित नहीं हुआ। सेक्शन इंजीनियर रेलवे एपी पांडेय ने बताया कि पुल चालू होने में अब ज्यादा देर नहीं है। गर्डर रखने के बाद पुल के ऊपर का काम 31 मार्च तक पूरा कर लिया जाएगा। इसी तिथि को पुल सेतु निगम को हैंडओवर कर देंगे।सोमवार रात तक गोविंदपुरी पुल के आखिरी पांच गर्डर भी रख दिए गए।d171925634

good-news-2 good-news-4 good-news-5

good-news-3

Advertisements