साफ होने लगा झकरकटी समानांतर पुल का रास्ता

कानपुर :  झकरकटी समानांतर पुल निर्माण का रास्ता साफ होने लगा है। अभी तक परिवहन अधिकारी इस बात पर अड़े थे कि समानांतर पुल से बस अड्डा फंस जाएगा लेकिन लोक निर्माण विभाग अधिकारियों ने एक नक्शा बनाकर परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक को भेजा है कि बस अड्डे में बसों के आवागमन के लिए ऐसी व्यवस्था कर देंगे कि बसें आराम से बस अड्डे पर जाएंगी।

केंद्रीय लोक निर्माण विभाग ने पिछले दिनों उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के एमडी को एक नक्शा भेजा है। इस संबंध में कानपुर परिक्षेत्र के क्षेत्रीय प्रबंधक नीरज सक्सेना का कहना है कि समानांतर पुल की ऊंचाई बढ़ा दी जाएगी, इसके अलावा पुल निर्माण के रास्ते निकाले जा रहे हैं ताकि पुल भी तैयार हो जाए और बस अड्डा भी नहीं फंसे।

झकरकटी समानांतर पुल का निर्माण बस अड्डे के अंदर से होते हुए किया जा रहा है। पुल तैयार होने के बाद बसों के अड्डे के अंदर प्रवेश एवं निकास की कोई व्यवस्था नहीं दी गई है। मौका मुआयना करने के बाद परिवहन निगम के तत्कालीन प्रबंध निदेशक ने बस अड्डे से अंदर से पुल नहीं जाने देने की बात की थी। गौरतलब है कि झकरकटी समानान्तर पुल पर रेलवे ने अपने अंश का पुल छह माह पूर्व ही तैयार कर दिया है। ऐसे में उम्मीद हैकि अब पुल जल्द ही बनना शुरू होगा और लोगों को अफीमकोठी से टाटमिल चौराहे तक लगने वाले जाम की समस्या से निजात मिल जाएगी और आवागमन में समय भी बचेगा।

फाइलों में ही सिमटकर रह गई सिक्स लेन रोड

 

कानपुर : विजय नगर से जरीबचौकी चौराहा (कालपी रोड) की छह लेन सड़क सिर्फ फाइलों में है। हकीकत में तो पार्किग व शोरूम ने सड़क संकरी कर दी है वहीं कई जगह सड़क खुदी होने से लोगों को आवागमन में दिक्कत होती है। 1विजय नगर से जरीबचौकी तक तीन किलोमीटर लंबी सड़क का निर्माण चार साल पहले पीडब्ल्यूडी ने कराया था। 14 मीटर सड़क की चौड़ाई 21 मीटर यानि छह लेन की गई थी लेकिन छह लेन रोड कागजों में ही रह गई। कई जगह पेड़ व पूजास्थल आने से रोड का एक हिस्सा दब गया। वाहनों के दबाव से फजलगंज में सड़क उखड़ गयी वहीं फजलगंज से जरीब चौकी के बीच में दो जगह सड़क खुदी पड़ी है। एक जगह पाइप टूटने से पानी सड़क पर बहता है। सड़क छह लेन की जगह केवल चार लेन ही बची है। दुकानदारों ने शोरूम सड़क पर ही बना रखा है। यहां कई व्यावसायिक निर्माण है लेकिन कहीं भी पार्किग की व्यवस्था नहीं है। लोग सड़क घेरकर वाहन खड़े करते हैं।

 

Advertisements