कानपुर के 1.25 लाख किसानों का कर्ज माफ

किसानों के कर्जमाफी सम्बंधी प्रदेश सरकार के फैसले से कानपुर जिले के सवा लाख किसानों को फायदा हुआ है। उन पर 2.5 हजार करोड़ रुपए बकाया था। फैसले से जिन बकाएदारों को राहत मिली है वह लघु व सीमांत किसान हैं। इनमें पांच हजार से अधिक की आरसी भी कट गई थी। गांवों में किसानों ने कर्जमाफी के फैसले का स्वागत किया है। बैंकों ने भी वसूली रोक दी है।जिले में 1.25 लाख से अधिक किसानों पर 10 हजार से लेकर एक लाख का बकाया है। इन किसानों ने फसली कर्ज लिया था। खाद, बीज, पानी और कीटनाशकों पर अधिक कर्ज लिया गया है। इसके अलावा खेती-किसानी में प्रयोग होने वाली भारी मशीनों को छोड़कर दूसरे संसाधनों पर कर्ज लिया है। सरकार के फैसले के बाद लीड बैंक अधिकारियों ने सभी बैंकों से किसानों के कर्ज का पूरा ब्योरा मांगा है। नगर के किसानों को ग्रामीण क्षेत्रों में काम कर रहे 16 बैंक कर्ज दे रहे हैं। लीड बैंक मैनेजर एसके वर्मा का कहना है कि शासनादेश मिलते ही किसानों की स्क्रीनिंग शुरू हो जाएगी। 2.5 हजार करोड़ के आसपास उन पर बकाया चल रहा है। अभी बैंकों से सही आंकड़ा मिलने के बाद ही यह बताया जा सकता है कि किसानों की वास्तविक संख्या क्या है? वैसे ढाई हजार करोड़ का फीगर आ रहा है। इस बीच कर्जमाफी से राहत पाए किसानों में खुशी है।

सीएम आद‌ित्यनाथ ने यूपी के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद 17वें द‌िन कैब‌िनेट की पहली बैठक की। इस बैठक में उन्होंने कई अहम प्रस्तावों को मंजूरी दी। बता दें क‌ि कैबिनेट की इस मीटिंग में किसानों का 1 लाख तक का फसली कर्ज माफ कर दिया गया। बताया जा रहा है क‌ि यूपी सरकार 36 हजार करोड़ रुपये से ये कर्ज माफ करेगी। इसके अलावा गाजीपुर में मल्टीफेस‌िलिटी स्टेडियम बनाया जाएगा जिसकी लागत 6 करोड़ होगी।
करीब डेढ़ घंटे तक चली इस बैठक में कई अहम फैसले ल‌िए गए हैं। इसके बाद कैब‌िनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया, गेहूं की फसल बहूत अच्छी हुई है इसको लेकर बहुत अहम फैसले लिए हैं।
 
5000 गेहूं खरीद के केंद्र चालू हों इसकी मॉनिटर‌िंग मुख्यमंत्री सहित मंत्रिमंडल के मंत्री करेंगे। गेहूं खरीद में 5 लाख और 8 लाख चरण की खरीद होती है। सरकार ने 80 लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य रखा है। पहले चरण में 40 लाख टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य रखा है। सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि अगर मांग ज्यादा है तो ज्यादा खरीद केंद्र खोले जाएं।
 
शर्मा ने कहा, एंटी रोमियो स्क्वायड प्रदेश में अच्छा काम कर रहा है। इसमें ध्यान रखा जाएगा क‌ि निर्दोषों को परेशान न करके गुनहगारों को सजा दिलाई जाए। अलग-अलग जगहों पर जाकर उद्योग नीत‌ि का अध्ययन क‌िया जाएगा फ‌िर यूपी में स‌िंगल व‌िंडो के माध्यम से अच्छी उद्योग नीत‌ि बनाई जाएगी। इस मंत्री समूह के अध्यक्ष ड‌िप्टी सीएम डॉ. द‌िनेश शर्मा होंगे।

Advertisements