हलीम में कॉलेज-हॉस्टल के बजाय अब मैरिज लॉन

कानपुर : हलीम मुस्लिम कॉलेज में पांच करोड़ की लागत से इंजीनियरिंग कॉलेज के साथ हास्टल बनाने की योजना थी। रुपयों के लालच में कॉलेज की जगह पर अब हलीम मैरिज लॉन बनाकर तैयार कर दिया गया है।1मुस्लिम एसोसिएशन के अधीन हलीम इंग्लिश स्कूल, हलीम इंटर कॉलेज, हलीम डिग्री कॉलेज और मुस्लिम जुबली गल्र्स कॉलेज आता है। पिछले वर्ष हलीम प्राइमरी मस्जिद के बगल में 3476 वर्गगज भूमि पर 45 कमरे का हास्टल एवं इंजीनियरिंग कॉलेज खोलने की योजना बनी और बैनर भी लगा दिया गया। साथ ही इसके अंदर निर्माण भी दिखावे के लिए शुरू करा दिया गया। ये सारा खेल सिर्फ जनता को धोखा देने के लिए था। ग्राउंड की सफाई कराकर अब हलीम मैरिज लान बना दिया गया है। और तो और बुकिंग भी शुरू कर दी गई है।

इंजीनियर कॉलेज की योजना : मुस्लिम एसोसिएशन ने हलीम में इंजीनियर कॉलेज की स्थापना कर कानपुर के बाहर से आने वाले 200 छात्र-छात्रओं के लिए हास्टल की मंजूरी दी थी। कॉलेज की मान्यता के लिए मानव संसाधन मंत्रलय से भी संपर्क करने का दावा किया गया था।मुस्लिम एसोसिएशन अध्यक्ष मोहम्मद शाहिद ने बताया कि हलीम कॉलेज में शादी व अन्य समारोह पर रोक लगा दी थी लेकिन अब तो मुस्लिम एसोसिएशन ने खुद ही मैरिज लॉन बना दिया है। गौरतलब है कि न्यू जुबली गल्र्स कॉलेज को पांच वर्षो तक इसलिए नहीं खोला गया क्योंकि वहां शादी समारोह से लाखों रुपये के वारेन्यारे हो रहे थे। हलीम मैरिज लॉन बनाए जाने की जानकारी नहीं है।

 

Advertisements