दिवाली की पूर्व संध्या पर शहर के सभी स्थान रोशनी से जगमगा उठे।

कानपुर : दीपावली पर मां लक्ष्मी के स्वागत को बुधवार की शाम पूरा शहर झिलमिल रोशनी से नहा उठा। सरकारी इमारतें हों या प्राइवेट संस्थान अथवा घर, हर इमारत पर रंग बिरंगी झालरें टिमटिमा रही हैं। ऐसा लग रहा है जैसे लाखों तारे मां लक्ष्मी के स्वागत को आसमान से धरा पर उतर आए हों। दीपावली पर गुरुवार को घरों पर दीप जलते ही मां काली, मां लक्ष्मी के साथ ही भगवान गणेश व कुबेर जी की कृपा श्रद्धालुओं पर बरसेगी।

महानिशीथ काल में मंदिरों में भगवती काली का पूजन अर्चन होगा। काली मंदिर घंटा और शंख की ध्वनि से गूंज उठेंगे। गांव हो या शहर हर जगह आतिशबाजी से आसमान सतरंगी हो उठेगा। घरों में शुभ मुहूर्त में मां लक्ष्मी, भगवान गणेश और कुबेर जी का पूजन अर्चन किया जाएगा। बड़े और बच्चे सभी मां की कृपा पाने को आतुर हैं। सभी को गुरुवार की शाम का इंतजार है ताकि घरों में मूर्तियों की स्थापना कर उनका पूजन अर्चन किया जा सके।

बुधवार को फूलबाग स्थित गांधी प्रतिमा पर कांग्रेसियों ने दीप जलाए

कानपुर महानगर कांगेस कमेटी की ओर से बुधवार को शहर के विभिन्न पार्को और ऐतिहासिक स्थलों पर स्थापित 146 महापुरुषों की प्रतिमाओं पर दीप जलाए। महानगर कांग्रेस अध्यक्ष हर प्रकाश अग्निहोत्री के संयोजन में हुए कार्यक्रम में कार्यकर्ता सबसे पहले फूलबाग और नानाराव पार्क पहुंचे। वहीं, वार्ड 106 कलक्टरगंज के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने घंटाघर स्थित भारत माता, नेहरू प्रतिमा, चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के नीचे दीप जलाए। इस मौके पर शंकर दत्त मिश्र, कमल जायसवाल, इकबाल अहमद, संदीप मिश्र, ग्रीन बाबू सोनकर आदि रहे। गांधी प्रतिमा पर अंधेरे से बिफरे कांग्रेसी : दिवाली पर फूलबाग स्थित गांधी प्रतिमा पर अंधेरा होने से कांग्रेसी भड़क गए। उन्होंने जिला प्रशासन के अधिकारियों से फोन करके रोशनी का इंतजाम करने की मांग की।

Advertisements