कानपुर मेयर को शहरवासियों ने फोन पर बताई परेशानी, पूछे सवाल तो ऐसे मिले जवाब

  • हिन्दुस्तान फोन इन कार्यक्रम के जरिए शहरवासियों ने बुधवार को कॉल करके महापौर प्रमिला पांडेय को सड़क, जलभराव, सीवरभराव और चट्टों की समस्या सुनाई.

फोन पर लोगों की परेशानी सुनती कानपुर की महापौर

कानपुर. ‘हिन्दुस्तान फोन इन’ कार्यक्रम के जरिए शहरवासियों ने बुधवार को कॉल करके महापौर प्रमिला पाण्डेय को सड़क, जलभराव, सीवरभराव और चट्टों की समस्या सुनाई. आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान ने समस्याओं के निस्तारण का प्लेटफार्म मुहैया कराए तो लोगों ने भी राहत की सांस ली. अधिकांश समस्याओं का का हल महापौर ने न सिर्फ फौरन निकाला बल्कि अफसरों को फोन करके मौके पर जाने के लिए भी कहा.

दक्षिण से लेकर उत्तर तक के तमाम इलाकों से लोगों ने कॉल किया. महापौर ने शहर में गंदगी की एक बड़ी वजह बन चुके चट्टों को हटाने के लिए फिर से अभियान चलाने का भरोसा दिलाया है. कल्याणपुर में जलभराव का खुद निरीक्षण करने की बात कही. कई मामलों के निपटारे के लिए उन्होंने टीमों का गठन भी कर दिया है.

कानपुर: बिकरु कांड से जुड़े आठ आरोपी कर सकते हैं कोर्ट में सरेंडर

सवाल: जून में नौबस्ता गल्ला मंडी के चंदन नगर में सड़कें बनाई गईं थीं. नाली भी बनी थी. अब कुछ लोगों ने यहां बांध बनाकर अवरोध खड़ा कर दिया है. सामान्य लोग बहुत दिक्कत झेल रहे हैं. – रंजना सिंह, चंदन नगर

जवाब: इसके लिए नगर निगम दोषी नहीं है. दो दिन में यह बांध खुला मिलेगा. जोनल अधिकारी को भेजकर मौके पर कार्रवाई कराए जाएगी. आप पूरी तरह निश्चिंत रहें. काम हो जाए तो फोन जरूर कर दें.

सवाल: कलक्टरगंज बाजार में एक भी बाथरूम या टॉयलेट नहीं है. इससे ग्राहकों को बहुत असुविधा होती है. यहां की कई सड़कें खराब हो चुकी हैं. महापौर जी, कृपया इस बाजार का ख्याल रखिए. – आशीष मिश्रा, महामंत्री कलक्टर व्यापार मंडल

जवाब:  क्या आपके बाजार में कोई जगह बाथरूम या टॉयलेट बनाने के लिए बची है? अगर है तो उसकी फोटो खींचकर प्रत्यावेदन दें, हर हाल में प्राथमिकता के आधार पर इसे किया जाएगा. सड़कें बनाने के लिए भी एक प्रार्थना पत्र व्यापार मंडल के पैड पर भेजें. इसका भी इस्टीमेट बनाकर टेंडर निकालेंगे.

आईआईटी कानपुर निदेशक अभय करंदीकर ने जीती कोविड 19 से जंग, जिले में कोरोना बेकाबू

सवाल: यहां दहेली सुजानपुर में केस्को के दफ्तर के पास गली में भारी जलभराव रहता है. निकलने की जगह नहीं है. एक बड़ा चट्टा लोगों के लिए परेशानी का सबब है. इसकी वजह से नालियां चोक हो जाती हैं. – कैप्टन शिवकरण सिंह चौहान, दहेली सुजानपुर

जवाब: यह चट्टे किसके हैं (तीन चट्टों के नाम नोट किए). इसे हम गुरुवार को दिखवा लेंगे. आप बिल्कुल चिंता न करें. हम चट्टों के खिलाफ फिर से अभियान चलाने जा रहे हैं. चट्टे हटाए जाएंगे.

सवाल: रामा देवी चौराहा से टिकरा पैगम्बरपुर का इलाका है जहां की पार्षद रीता कुशवाहा हैं. यहां मेन रोड तक पहुंचने के लिए रास्ता ही नहीं है. लोगों को आने-जाने में दिक्कत होती है. आखिर हम क्या करें? टैक्स भर रहे हैं. – शैलेंद्र कुमार, टिकरा पैगम्बरपुर

जवाब : सड़क बनवाने के लिए मोहल्ले के लोगों के हस्ताक्षर के साथ एक प्रार्थना पत्र आप मुझे नगर निगम में आकर दे जाइए. यहां सड़क निर्माण का इस्टीमेट तैयार कराकर टेंडर की प्रक्रिया शुरू कराई जाएगी.

यूपी में शूटिंग गाइडलाइंस के लिए राजू श्रीवास्तव ने लिखा अवनीश अवस्थी को पत्र

सवाल: गंगापुर कॉलोनी के पास डी वन राजीव नगर (यशोदा नगर) में बारिश के कारण घरों में गंदा पानी घुस जाता है. जल निकासी की कोई व्यवस्था ही नहीं है. सड़क मरम्मत और सफाई की भी दरकार है. – गिरीश वर्मा, राजीव नगर

जवाब: इस मामले में नगर निगम की टीम मौके पर भेजी जाएगी जो यह पता लगाएगी कि आखिर किन वजहों से घरों में गंदा पानी घुस रहा है. जल निकासी के लिए समुचित इंतजाम कराने के लिए की रिपोर्ट मांगी जा रही है.

सवाल: कल्याणपुर इलाके के आवास विकास तीन में जलभराव और सीवरभराव की समस्या विकराल है. बारिश के बाद पनकी-कल्याणपुर रोड के दोनों तरफ रहने वालों के घरों में पानी घुस रहा है. इसका निदान कराएं. – तरुण चटर्जी, एसके वर्मा, दीपनेंद्र सिंह, विनय कुमार दीक्षित

जवाब: कल्याणपुर-पनकी रोड पीडब्ल्यूडी ने बनाई है. सड़क ऊंची हो जाने के कारण जल निकासी अवरुद्ध हो चुकी है. इस संबंध में संबंधित अफसरों से वार्ता की जा रही है. मैं खुद इस इलाके का निरीक्षण करके पूरी रिपोर्ट तैयार कराऊंगी. समाधान होगा.

सवाल: साकेत नगर डब्ल्यू वन ब्लॉक में कई जगह सड़क और नाली बिल्कुल खराब हो चुकी है. इस वजह से लगातार जलभराव हो रहा है. ज्यादा बारिश होने पर लोगों के घरों में पानी घुस जाता है. इसका समाधान कराएं. – रीता श्रीवास्तव, साकेत नगर

जवाब: इस संबंध में जोनल अधिकारी और जोनल अभियंता के अलावा जलकल की टीम भी मौके पर भेजी जाएगी जो इस बात का अध्ययन करेगी कि आखिर यह स्थिति क्यों आई? इसके बाद समस्या का स्थाई निदान हो जाएगा. मैं इसके लिए अफसरों को अभी बोल रही हूं.

कानपुर: गंगा का जलस्तर बढ़ने से प्रमुख धार्मिक स्थल ब्रह्मा खूंटी डूबी

सवाल: नौबस्ता गल्ला मंडी के पास पार्षद मेनका सिंह के वार्ड में सीवरभराव की समस्या विकराल हो चुकी है. यहां कई बार टीम आई मगर कुछ भी ऐसा नहीं हो सका जिससे राहत मिल सके. – देव सोनकर, अखिलेश मिश्रा, नौबस्ता गल्ला मंडी

जवाब: नि:संदेह यह बड़ी समस्या है. अगर थोड़े प्रयास से यह मामला निपट सकता है तो इसके लिए टीम भेजी जाएगी. वहां पर देखेगी की क्या स्थिति है. अगर नई सीवर लाइन डालने की जरूरत होगी तो करोड़ो रुपए खर्च हो सकते हैं. इसका इस्टीमेट तैयार कराया जाएगा.

सवाल: बर्रा छह के सी ब्लॉक में एक पार्क है जिसमें कुछ लोगों ने कब्जा करके गैराज बना लिया है. पार्क बच्चों और परिवारों के मनोरंजन के लिए है. पूरे समय पार्क में गाड़ियां खड़ी रहती हैं. इसका कुछ उपाय करें. – मीनाक्षी, बर्रा छह

जवाब: कोई भी पार्क गैराज बनाने के लिए नहीं होता. जिस किसी ने भी कब्जा किया होगा उसे हटाया जाएगा. अतिक्रमण तोड़ा जाएगा. पार्क की दीवार भी बनाई जाएगी ताकि कभी भी कोई खुले में घुसकर कब्जा न कर सके.

सवाल: हरजेंदर नगर में भारी जलभराव की स्थिति है. यहां की सड़कें भी खराब हो चुकी हैं. स्ट्रीट लाइटें भी नहीं हैं. इससे लोगों में असुरक्षा की भावना है. क्या इस इलाके के लिए कोई ठोस योजना नहीं बनाई जा सकती? – दिनेश सिंह कुशवाहा, हरजेंदर नगर

जवाब: स्ट्रीट लाइटें लगवाने के लिए पर्यावरण अभियंता और ईईएसएल से अभी कहा जा रहा है. मौके पर टीम जाएगी. सड़कें बारिश के बाद बनाए जाने के कवायद होगी. जल निकासी के समुचित इंतजाम कराने के लिए जोनल अभियंता से कहा जा रहा है.

सवाल: नया पुराना शिवली रोड तिराहे से सटे घरों में आसपास का सारा पानी यहीं आकर ठहर जाता है. यह नई सोसायटी बनी है. यहां से बच्चे भी नहीं निकल पाते. धीरे-धीरे स्थिति बहुत गंभीर होती जा रही है. कोई समाधान क्यों नहीं हो रहा? – सौमेश सिंह, नया पुराना शिवली रोड तिराहा

जवाब: सोसायटी के इलाके नगर निगम के पास नहीं हैं. इसके बाद भी आपकी समस्या को गंभीरता से देखा जाएगा. यह पता लगाया जाएगा कि आखिर किन वजहों से जलभराव हो रहा है. इसका समाधान कराने के लिए स्थाई व्यवस्था कराने की कोशिश की जाएगी.

कानपुर: कस्बे में जन सेवा केंद्र खुलने से अब नहीं काटने पड़ेंगे शहरों के चक्कर

सवाल: अनवरगंज रेलवे स्टेशन की तरफ जाने वाली रोड पर कबाड़ वालों ने अतिक्रमण कर रखा है. इतने कब्जे हो चुके हैं कि आसानी से रोड से निकल पाना ही मुश्किल है. कई बार शिकायत की गई मगर इसका निस्तारण आज तक नहीं हुआ. – विजय गुप्ता, अनवरगंज

जवाब : किसी को भी रोड पर अतिक्रमण करने का अधिकार नहीं है. इसके लिए मौके पर इंक्रोचमेंट टास्क फोर्स भेजी जाएगी. जिन लोगों ने भी कब्जा किया है उनके निर्माण ध्वस्त किए जाएंगे.

सवाल: लाल बंगला वार्ड नंबर 28 में नाला बैक फ्लो कर रहा है. इससे जलभराव हो रहा है. वहीं इस इलाके में आधा दर्जन चट्टे हैं जिनकी वजह से लोगों का घरों में रहना मुश्किल हो चुका है. – शैलेंद्र सिंह राठौर, लाल बंगला

जवाब: जलभराव के कारणों की तलाश करके इसका निदान किया जाएगा. इसके लिए नगर निगम की टीम मौके पर जाएगी. चट्टे हटाने के लिए आपके इलाके के सभी चट्टों को अभी सूचीबद्ध किया जा रहा है.

सवाल: सरसैया घाट पर सीवर लाइन बिछाई गई मगर बारिश के बाद सारा गंदा पानी सड़कों पर बैक फ्लो होकर बह रहा है. जल निगम और जलकल के जो अफसर यहां आए थे उन्होंने भी खानापूरी की. आपके निर्देशों का भी पालन नहीं हुआ. – ऋषि तिवारी, सरसैया घाट

जवाब: मैंने मौके पर खुद जाकर स्थिति को देखा था. कई समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण भी कराया था. अगर इसके बाद भी दिक्कतें यथावत हैं तो दोबारा मौके पर टीम भेजेंगे. खुद भी आऊंगी. इस बार कोई न कोई स्थाई समाधान जरूर होगा.