मेट्रो को 9405 करोड़ का लोन

कानपुर : 17092 करोड़ रुपये के मेट्रो प्रोजेक्ट को मूर्त रूप देने के लिए अब 9405 करोड़ का लोन लिया जाएगा। लोन देने को जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जाइका) और यूरोपियन इंवेस्टमेंट बैंक तैयार हैं। जाइका जहां 1.0 फीसद वार्षिक वार्षिक ब्याज दर पर लोन देना चाहती है तो यूरोपियन इंवेस्टमेंट बैंक 0.5 फीसद वार्षिक ब्याज दर पर लोन देने को तैयार हैं।

Read Article →

पनकी पॉवर प्लांट में रिकार्ड उत्पादन

कानपुर-संवाददाता : अभी कुछ ही माह पहले बंदी के कगार पर खड़ी पनकी पॉवर प्लांट की 42 वर्ष पुरानी जर्जर इकाई फिर रफ्तार पकड़ चुकी है। दोनों यूनिटों का बिजली उत्पादन मार्च 2016 में 38.26 मिलियन यूनिट था लेकिन अब रिकार्ड उत्पादन के साथ प्लांट फिर से दौड़ने लगा है।

Read Article →

कानपुर उद्यमियों के लिए ‘संजीवनी’ का काम करेगा ‘टेनर्जी’

कानपुर:जमीन से लेकर गंगा तक में फैले जहरीले प्रदूषण को लेकर संकट में घिरी टेनरियों के लिए एक राहत भरी टेक्नोलॉजी आई है। जर्मनी की इस टेक्नोलॉजी के जरिए टेनरियों से निकलने वाले सॉलिड वेस्ट से बिजली बनाई जा सकती है। बंथर-उन्नाव बेल्ट की टेनरियों से निकलने वाला कचरा इतनी बिजली बनाने के लिए पर्याप्त है, जिससे प्रस्तावित जेडएलडी (जीरो लिक्विड डिस्चार्ज) प्लांट चलाया जा सकता है। वर्तमान कॉमन ट्रीटमेंट प्लांट की जरूरत की दोगुनी बिजली टेनरियों के कचरे से बनाई जा सकती है।

Read Article →

सावधान! आप चीन का हीरा तो नहीं खरीद रहे ?

चीन में बने हीरे खरीद रहे हैं तो सावधान हो जाइए। चीनी नकली हीरों ने भारतीय बाजार में गुपचुप सेंध लगा दी है। गंभीर बात ये है कि ये नकली हीरे देखने में बिल्कुल असली हैं। इतना ही नहीं हीरे की कसौटी यानी कट, कैरेट, कलर, क्लैरिटी और पॉलिश से इन इन्हें पहचान पाना आम जौहरी के बस की बात नहीं है। यहां तक कि ये असली हीरों की तरह प्रमाणित भी हैं। 40 फीसदी सस्ते इन हीरों का मूल्य मिट्टी है।

Read Article →

कानपुर। डांडिया संग झूमा शहर

हाई वोल्टेज म्यूजिक पर इंडियन आइडियल फेम नेहा चौहान की सुरीली आवाज पर गरबा की तान छिड़ते ही डांडिया की मस्ती सातवें आसमान पर पहुंच गई। गरबा से शुरू हुई अलबेली डांडिया नाइट एक के बाद एक गरबा और गीतों की लड़ी में बुनती चली गई। उम्र की सीमा टूट गई।

Read Article →

1857 के कानपुर कनेक्शन से रूबरू होंगे रिजर्व बैंक गवर्नर

19 से 21 अक्तूबर तक देश की आर्थिक और मौद्रिक नीति समीक्षा का गवाह कानपुर बनेगा। आरबीआई कानपुर को पहली बार इतनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिली है। बुधवार को गवर्नर और सभी डिप्टी गवर्नर शहर पहुंच जाएंगे। उसी दिन वित्त सचिव भी आएंगे। चूंकि गवर्नर का शेड्यूल बेहद व्यस्त है इसलिए गवर्नर हाउस में ही कानपुर के ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और पौराणिक महत्व को बताने की तैयारी की गई है।

Read Article →

1 हजार टन Gold की वजह से वर्ल्ड फेमस हो गया था ये गांव, पढ़ें पूरी कहानी

कानपुर/उन्नाव. अक्‍टूबर के महीने में यूपी के उन्‍नाव जिले का एक छोटे सा गांव देश ही नहीं विदेशों में भी चर्चा का विषय बन गया था। ये वही जगह है जहां साल 2013 में एक संत ने सपना देखा था। kanpurcitynews.wordpress.com आपको उस समय हुए संत के सपने और उससे जुड़ी कहानी के बारे में बताने जा रहा है।

Read Article →

कानपुर से चार दिन दिल्ली को फ्लाइट

शहर से एक बार फिर दिल्ली की फ्लाइट शुरू होने का समय आ गया है। अबकी बार कानपुर से दिल्ली को शुरू होने वाली फ्लाइट सप्ताह में चार दिन ही उड़ान भरेगी। लोड ठीक ठाक रहा तो इस फ्लाइट को प्रतिदिन किया जाएगा। एयरपोर्ट अधिकारियों ने गुरुवार को एयरफोर्स के अफसरों संग बैठक भी की। एयरपोर्ट अफसरों ने बताया कि सोमवार, बुधवार, शुक्रवार और शनिवार को हवाई सेवा शुरू करने का प्रस्ताव तैयार किया है। अभी तिथि पर अंतिम फैसला नहीं हो पाया है। इसकी वजह यह है कि उद्घाटन समारोह का भी आयोजन होना है। इसमें केंद्रीय मंत्री भी आ सकते हैं। दिल्ली के लिए शुरू होने वाली फ्लाइट का किराया 1500 से लेकर 8000 रुपए तक होगा। एयर इंडिया की वेबसाइट पर कोई भी ऑनलाइन बुकिंग भी करा सकता है।

Read Article →

आज से निशान-ए-पैक के पीछे दौड़ेंगे पैकी

कानपुर : कर्बला में शहीद हुए हजरत इमाम हुसैन के दूत के रूप में मोहर्रम की पांच तारीख शुक्रवार से लोग पैकी बनेंगे और अपने बच्चों को भी पैकी बनाएंगे। पैकी शहर के विभिन्न इमामबाड़ों पर जाएंगे और फातिहा पढ़ेंगे।

Read Article →

मेट्रो से बदलेगी साउथ की तस्वीर

मेट्रो रेल दौड़ने के साथ ही साउथ सिटी की तस्वीर भी बदलेगी। दूसरे चरण में सीएसए से बर्रा आठ तक मेट्रो चलेगी। इस रूट पर मेट्रो रेल चालू होने के बाद पांच लाख लोगों को ट्रैफिक के लोड से लगने वाले जाम व क्रासिंग बंद होने पर फंसने से राहत मिलेगी। साथ ही मेट्रो के रूट पर पड़ने वाले इलाके विकसित होने के साथ ही रोजगार के हब बन जाएंगे।

Read Article →

सेंट्रल के आउटर ट्रेन लुटेरों के पनाहगाह

रेलवे पुलिस और सुरक्षा बल की शिथिलता की वजह से सेंट्रल स्टेशन के चौतरफा आउटर जरायम का अड्डा बन चुके हैं। आउटर के ट्रैक के पास बसी अवैध बस्तियां अपराधियों की पनाहगार बन चुकी हैं। हिस्ट्रीशीटर सागर, इरफान, छोटू, गुलाबी, कुसमा इन्हीं बस्तियों में रहती हैं। इसमें से कई अपराधियों की गिरफ्तारी भी इन्हीं बस्तियों से हुई है। मंगलवार को देररात मरे कंपनी पुल से गंगाघाट के बीच एलटीटी सहित तीन ट्रेनों में हुई डकैती की वारदात ने इस मसले को और पुख्ता कर दिया है।

Read Article →