थानों में कबाड़ थे, अब भी कबाड़ ही रहेंगे वाहन

कानपुर : यह खबर उनके लिए जरूरी है जो नीलामी में थानों में पड़े वाहन खरीद रहे हैं। सस्ते के चक्कर में वाहन खरीदा तो उसे बाद में कबाड़ में ही बेचना पड़ सकता है। केवल वह वाहन ही स्थानांतरित हो सकते हैं जो संभागीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) में रजिस्टर्ड हैं। यूरो-थ्री वाहनों का रजिस्ट्रेशन…

डग्गामार बस वालों की बढ़ी ‘दादागीरी’

कानपुर : शहर की यातायात व्यवस्था ध्वस्त करने में आरटीओ, इलाकाई पुलिस और ट्रैफिक की मिलीभगत कहें तो गलत नहीं होगा। जिन मार्गो पर यात्री कम हैं, उन रूटों का परमिट लेकर दूसरे अधिक यात्री वाले रूटों पर प्राइवेट महानगर बसें डग्गामारी कर रही हैं। आश्चर्य तो इस बात का है कि तीन सवारी देखते…

बढ़े पॉवर तो राहत पाए शहर

सबस्टेशनों में पॉवर ट्रांसफार्मरों की क्षमता बढ़ाए जाने से जनता को सबसे ज्यादा राहत लो वोल्टेज से मिल सकती है। कारण कि नौ सबस्टेशनों से जुड़े अधिकांश इलाकों में 170 से 190 बोल्ट बिजली आपूर्ति हो पा रही है, कई मोहल्ले वालों ने केस्को में शिकायत भी की है लेकिन निदान नहीं हो पा रहा।